सार्मवेद क अर्थ, स्वरूप, शार्खार्एं

अथर्ववेद के अनेक स्थलों पर सार्म की विशिष्ट स्तुति ही नहीं की गर्इ है, प्रत्युत परमार्त्मभूत ‘उच्छिष्ट’ (परब्रह्म) तथार् ‘स्कम्भ’ से इसके आविर्भार्व क भी…