वित्तीय प्रबंध की प्रकृति, क्षेत्र तथार् उद्देश्य

मनुष्य द्वार्रार् अपने जीवन काल में प्रार्य: दो प्रकार की क्रियार्एं सम्पार्दित की जार्ती है आर्थिक क्रियार्यें  अनाथिक क्रियार्एं । आर्थिक क्रियार्ओं के अन्र्तगत हम…