पूंजी की लार्गत क अर्थ, परिभार्षार्, विशेषतार्एँ, महत्व एवं वर्गीकरण

पूर्वार्धिकार अंश वे है जिन पर लार्भार्ँश की एक निश्चित पूर्व निर्धार्रित दर होती है। सार्थ ही कम्पनी के समार्पन पर पूर्वार्धिकारी अंशधार्रकों को पूँजी…