आन्दोलन
भार्रतीयों को प्रथम विश्व युद्ध की समार्प्ति के पश्चार्त् अंग्रेजों द्वार्रार् स्वरार्ज्य प्रदार्य करने क आश्वार्सन दियार् गयार् थार्, किन्तु स्वरार्ज्य की जगह दमन [...]
1929 र्इ. में लार्हौर के काँग्रेस अधिवेशन में कँार्ग्रेस कार्यकारणी ने गार्ँधीजी को यह अधिकार दियार् कि वह सविनय अवज्ञार् आन्दोलन आरंभ करें। तद्नुसार्र [...]

TOP